Posts

Showing posts from February, 2017

गुरमेहर ने छोड़ा कैम्पेन, समर्थन में उतरे केजरीवाल-वाड्रा

Image
दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में हुई हिंसा के बाद लगातार सोशल मीडिया कैंपेन चला रही छात्र गुरमेहर कौर ने अब खुद को इस कैंपेन से अलग कर लिया है. इस बात की जानकारी गुरमेहर ने फरवरी 27 की  सुबह एक ट्वीट करके दी. गुरमेहर ने अपने ट्वीट में लिखा है कि ‘मैं खुद को इस कैंपेन से अलग कर रही हूं, आप सभी का शुक्रिया, मुझे जो कहना था वो कह चुकी हूं’.
आग लगाकर गुरमेहर का अलग होना, किसी षड्यंत्र का स्पष्ट संकेत है। और सरकार इस षड्यंत्र के ऊपर से पर्दा हटाकर षड्यंत्रकारियों को बेनकाब करे। इतनी आग लगने पर अब अपने-आपको अलग कर, क्या सिद्ध करना चाहती है? 
इसके साथ ही गुरमेहर ने अपने विरोधियों को आड़े हांथ लेते हुए कहा कि  ‘जो लोग भी मेरे साहस पर सवाल खड़े कर रहे हैं, उन्हें बताना चाहती हूं कि मैंने उसके कहीं ज्यादा हिम्मत दिखाई’. अपने अगली ट्वीट में उन्होंने लिखा ‘ये पक्की बात है कि आगे से कोई भी हिंसा और धमकी देने से पहले दो बार जरूर सोचेगा’. गुरमेहर ने छात्र लेफ्ट संगठन आईसा की ओर से निकाले जाने वाले मार्च के लिए छात्रों को शुभकामना दी है. गुरमेहर ने अपनी प्रोफाइल पिक्चर भी बदल दी है जिसमे…

हरियाणा से मिला देशद्रोहियों को तकड़ा जवाब

Image
आप चाहे माने या ना मानें लेकिन देशभक्ति का जज्बा हरियाणा के लोगों में बहुत है, जब भी बात देश पर आती है, महिला हों, क्रिकेटर हों, खिलाडी हों, फिल्म कलाकार हों, सब के सब एक साथ देश की एकता के लिए खड़े हो जाते हैं और देशद्रोहियों पर हमला बोल देते हैं। 
पिछले तीन दिनों से दिल्ली के रामजस कॉलेज में देशद्रोहियों का झुण्ड इकठ्ठा हो गया है और देश का माहौल एक बार फिर से खराब हो गया है, रामजस कॉलेज में देशविरोधी नारे भी लगे थे जिसके बाद ABVP छात्र संगठन ने देश-विरोधी नारे लगाने वालों को पीट दिया था। 
इसके बाद वामपंथी संगठन की एक छात्रा गुरमेहर कौर का एक वीडियो सामने आया जिसमें पाकिस्तान से प्रेम करने का सन्देश दिया गया था, गुरमेहर कौर एक शहीद सैनिक मंदीप सिंह की बेटी है, उसने वीडियो सन्देश में कहा था कि मेरी पिता को पाकिस्तान ने नहीं मारा, उन्हें तो युद्ध ने मारा था। गुरमेहर कौर के कहने का मतलब था कि पाकिस्तान से नफरत मत करो, पाकिस्तान से प्रेम करो ताकि शांति स्थापित हो सके और किसी बेटी को फिर से अनाथ ना होना पड़े। 
गुरमेहर कौर को इसलिए हलके में नहीं किया गया क्योंकि वह वामपंथी संगठन की छात्रा है…

आखिर कब तक मीडिया हिन्दू विरोधी रहेगा?

Image
यह एक कटु सत्य है कि मीडिया हिन्दू विरोधी है। और इस सत्य से कोई इंकार नहीं कर सकता। होली, दीपावली एवम अन्य त्योहारों पर कितना दुष्प्रचार किया जाता है, किसी अन्य धर्म के त्यौहारों की नहीं। आखिर किस कारण केवल हिन्दू त्यौहारों का विरोध किया जाता है? *आख़िर क्यों मुख्य न्यायाधीश ने भरी अदालत में कहा-“मैं हिन्दू हूँ पर किसी से नहीं डरता”*

भारत एक हिंदू राष्ट्र है, हिंदुत्व इसकी पहचान हैं ! फिर एक हिंदू होने में डरने की क्या बात है! एक ऐसा मामला सामने आया हैं जहां एक याचिकाकर्ता ने हिंदू होने के नाते अदालत में पेश न होने का हवाला दिया ! जिस पर न्यायधीश को हिंदू होने पर गर्व होने की बात कहनी पड़ी !

*सुप्रीम कोर्ट के नवनिर्वाचित मुख्य न्यायाधीश जे.एस. खेहर ने सोमवार को अदालत की सुनवाई के दौरान कहा “मैं हिन्दू हूँ पर किसी से नहीं डरता”।*

*आखिर क्यों मुख्य न्यायाधीश को इस तरह का बयान देना पड़ा होगा ? क्या देश के अन्य सारे हिन्दू डर-डर के जीते है ? क्या हमारा देश इतना बदल गया है ?*

दरअसल एक *याचिकाकर्ता बाल राम बाली ने दसवीं बार “गौहत्या” पर रोक लगाने की गुहार लगाई थी। याचिकाकर्ता ने कहा “हिन्दू अदालत म…